27 October 2020

bebaakadda

कहो खुल के

अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री हाजी हुसैन अंसारी के जनाजे में उमड़ा भीड़, मधुपुर के पिपरा कब्रिस्तान में रविवार को सुपुर्द-ए-खाक

18 Views
अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री हाजी हुसैन अंसारी के जनाजे में उमड़ा भीड़, मधुपुर के पिपरा कब्रिस्तान में रविवार को सुपुर्द-ए-खाक
बेबाक अड्डा, मधुपुर/देवघर
शनिवार की रात को उनके पार्थिव शरीर को राजधानी रांची से मधुपुर लाया गया
विधायक इरफान अंसारी पहुंचे पिपरा, नम आंखों से दी विदाई
हाजी साहब का आकस्मिक निधन पूरे राज्य के लिए अपूरणीय क्षति
झारखंड सरकार के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री 74 वर्षीय हाजी हुसैन अंसारी का पार्थिव शरीर राजकीय सम्मान के साथ मधुपुर के पिपरा कब्रिस्तान में रविवार को सुपुर्द-ए-खाक किया गया. पैतृक गांव पिपरा में दोपहर बाद जोहर की नमाज अता करने के बाद पिपरा कब्रिस्तान में उन्हें मिट्टी दी गयी. रविवार सुबह पथलचपटी स्थित आवास में कुछ देर के लिए उनके शव को रखा गया. यहां लोगों ने उनके अंतिम दर्शन किये. इसके बाद पैतृक गांव पिपरा ले जाया गया. जहां पिपरा कब्रिस्तान में उनका अंतिम संस्कार किया गया. पार्थिव शरीर उनके पैतृक आवास से निकला जहां झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष सह जामताड़ा विधायक डॉ इरफान अंसारी मौजूद रहे. विधायक जनाजे की नमाज मे शामिल हुए. विधायक के साथ-साथ हजारों की संख्या में पहुंचे लोगों ने पार्थिव शरीर को कंधा देने के लिए आगे आए और उनकी एक झलक देखने को लेकर लोगों की आंखों में बेचैनी साफ नजर आ रही थी. विधायक ने कहा कि यह यह सिर्फ मधुपुर नहीं बल्कि पूरे झारखंड के लिए अपूरणीय क्षति है. हाजी साहब मेरे पिता समान थे और हम लोगों का पारिवारिक संबंध था. पहली बार मुझे हाजी साहब के साथ एक विधायक के तौर पर काम करने का मौका मिला, जो मेरे लिए हमेशा से यादगार रहेगा. मैंने उनसे बहुत कुछ सीखा है. उनका शांत स्वभाव उनके व्यक्तित्व को दिखलाता था. झारखंड की राजनीति में उनकी भूमिका हमेशा याद की जाएगी. अचानक से वे हम लोगों को छोड़कर चले गए. उनकी कमी हमेशा खलेगी. दुख की इस घड़ी में मैं परिवार वालों के साथ हूं और खुदा से दुआ करता हूं की हाजी साहब को जन्नत नसीब करें.

हाजी हुसैन अंसारी मधुमेह के अलावा किडनी रोग से परेशान थे

रांची के मेदांता हॉस्पिटल में भर्ती हाजी हुसैन अंसारी कोरोना संक्रमित थे. 23 सितंबर को सांस लेने में तकलीफ होने पर उन्हें मेदांता में भर्ती कराया गया था.शुक्रवार को दोबारा जांच में उनकी रिपोर्ट निगेटिव मिला था. लेकिन तबीयत में कोई सुधार नहीं हुआ. एक दिन बाद शनिवार की शाम 3:50 बजे हृदय गति रुकने से उनका निधन हो गया. डॉक्टर के अनुसार उन्हें मधुमेह के अलावा किडनी की भी बीमारी थी. शनिवार देर शाम स्वर्गीय अंसारी के पार्थिव शरीर को इनके विधानसभा क्षेत्र मधुपुर ले जाया गया.

2 दिनों का राजकीय शोक की घोषणा

हाजी हुसैन अंसारी का जन्म 23 जुलाई 1947 को मधुपुर के पिपरा गांव में हुआ था. उनके निधन पर राज्य सरकार ने रविवार व सोमवार को दो दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है. सोमवार को भी सरकारी कार्यालयों में अवकाश रहेगा. हाजी हुसैन अंसारी मधुपुर विधानसभा क्षेत्र से चौथी बार विधायक चुने गये थे. वर्ष 1995, 2000, 2010 और 2019 में झारखंड मुक्ति मोर्चा के टिकट से चुनाव जीतकर विधायक बने थे.

Bebaak adda
Author: Bebaak adda

Subscribe us and do click the bell icon

Translate »