25 October 2020

bebaakadda

कहो खुल के

अनलाॅक-05 के तहत अन्तर्राजीय श्रद्धालु भी कर सकेंगे बाबा बैद्यनाथ का दर्शन

10 Views
अनलाॅक-05 के तहत अन्तर्राजीय श्रद्धालु भी कर सकेंगे बाबा बैद्यनाथ का दर्शन
बेबाक अड्डा, देवघर
बाबा बैद्यनाथ के दर्शन के लिए ऑनलाइन माध्यम की सुविधा रहेगी उपलब्ध : डीसी
पूर्वाह्न 6ः00 बजे से अपराह्न 2ः00 बजे तक रोजाना 1000 श्रद्धालु कर सकेंगे दर्शन
अन्तर्राजीय श्रद्धालु के लिए बाबा मंदिर को खोलने को लेकर राज्य सरकार के दिशा-निर्देश के अनुपालन को लिए देवघर डीसी सह जिला दंडाधिकारी कमलेश्वर प्रसाद सिंह की अध्यक्षता में समाहरणालय सभागार में बैठक का आयोजन किया गया. इस दौरान अनलाॅक-05 से संबंधित दिशा-निर्देश के आलोक में विभिन्न बिन्दुओं पर विस्तृत समीक्षा करते हुए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया गया.
इसके अलावा बैठक के दौरान डीसी द्वारा जानकारी दी गयी कि 11 अक्टूबर से बाबा मंदिर सुबह 6ः00 बजे से 2ः00 बजे अपराह्न तक श्रद्धालुओं के लिए खुली रहेगी. प्रतिदिन श्रद्धालुओं की अद्यतन सीमा 1000 की होगी. ताकि सामाजिक दूरी का अनुपालन करते हुए प्रत्येक घंटे 125 श्रद्धालुओं को सुविधा उपलब्ध करायी जायेगी. साथ ही श्रद्धालुओं को मानसिंघी में ई-पास एवं आवश्यक परिचय पत्र के सत्यापन द्वारा प्रवेश की अनुमति दी जायेगी. श्रद्धालु दर्शन करने के पश्चात निकास द्वार से होते हुए वीआईपी गेट के रास्ते बाबा मंदिर से बाहर निकाले जायेंगे. वहीं झारखंड के बजाय अब भारत के किसी प्रांत के श्रद्धालु ई-पास निर्गत करा कर बाबा बैद्यनाथ का दर्शन कर सकते हैं. वर्तमान में राज्य सरकार के निदेशानुसार स्पर्श पूजा की अनुमति नहीं होगी. दर्शन की सुविधा अरघा के माध्यम से उपलब्ध करायी जायेगी.
सबसे महत्वपूर्ण श्रद्धालुओं की स्वास्थ्य सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए मंदिर में प्रवेश के लिए सरकार द्वारा निर्धारित स्वास्थ्य मानकों यथा-फेस मास्क का धारण, सैनिटाईजर से हस्तप्रक्षालण, व्यक्तिगत दूरी का अनुपालन करना अनिवार्य होगा. थर्मल स्कैनिंग में यदि गड़बड़ी पायी जाती है तो श्रद्धालुओं का प्रवेश वर्जित कर दिया जायेगा. साथ ही जिस किसी श्रद्धालु को मास्क के बिना पाया जायेगा, उनका दो घंटों के लिए विचरण निषिद्ध कर दिया जायेगा. अन्यथा निरूपित स्वास्थ्य मानकों का दृढ़तापूर्वक उल्लंघन करने पर भारतीय दंड विधान की धारा-188 के तहत कार्रवाई भी जा सकती है.
समीक्षा के क्रम में डीसी कमलेश्वर प्रसाद सिंह द्वारा विधि-व्यवस्था, ट्रैफिक व्यवस्था व श्रद्धालुओं की सुरक्षा को लेकर बाबा मंदिर, मानसिंघी, शिवगंगा एवं आस-पास के क्षेत्रों में दंडाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारी के प्रतिनियुक्त करने का निर्देश दिया गया है. ताकि सभी श्रद्धालुओं को राज्य सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का अनुपालन कराते हुए बाबा बैद्यनाथ का सुलभ दर्शन कराया जा सके. बैठक में पुलिस अधीक्षक अश्विनी कुमार सिन्हा, अपर समाहर्ता चन्द्र भूषण प्रसाद सिंह, प्रभारी पदाधिकारी बाबा मंदिर सह अनुमंडल पदाधिकारी  दिनेश कुमार यादव, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी  विकास चन्द्र श्रीवास्तव, जिला सूचना विज्ञान पदाधिकारी एबी राॅय, सहायक जनसम्पर्क पदाधिकारी रोहित कुमार विद्यार्थी एवं संबंधित विभाग के अधिकारी आदि उपस्थित थे.
Bebaak adda
Author: Bebaak adda

Subscribe us and do click the bell icon

Translate »